carding kya hai or carding kaise kare

carding kya hai aur carding kaise kare

Free में या कम पैसो में कोई भी product पाना सबको पसंद होता है। सभी लोग चाहते है कि उनको कोई भी महंगा product बहुत सस्ता मिले जैसे iphone मोबाइल, महंगे लेपटॉप या फिर कोई भी महंगा product।

caeding kya hoti hai
carding kya hai or carding kaise kare

हम अपने इसी लालच के कारण कई बार मुश्किल में पड़ जाते है ओर बहुत बार हैम कुछ गलत काम भी कर जाते है carding भी एक ऐसा ही गलत काम है जिसके बारे में हम बहुत कुछ जानने वाले हैं।

Facebook, whatsapp या other social networking website का उपयोग करते हुए आपने  कुछ संदेश देखे होंगे जिसमे बहुत महंगे iphone को बहुत कम कीमत में देने की बाते की जाती है जैसे - 1 लाख का iphone केवल 20 हजार में मिल सकता है। हम लालच के कारण यह product खरीद लेते हैं।
यह product carding द्वारा खरीदे हुए होते है

carding kya hai?


Carding एक विधि हैं जिसके द्वारा बहुत से लोग किसी shopping website( लाइक :- amazon, flipcart, paytm, ebay) free में कोई भी सामान बुलाये जाते है ये सामान फ्री तो नही होते है लेकिन इस विधि में जो व्यक्ति carding कर रहा है वो किसी दूसरे के card ( लाइक :- cradit card or dabit card) को hack करके उस card द्वारा महंगे सामान बुलाये जाते है और बाद में सस्ते दामो में उन सामानों को बेच दिया जाता है। इस तरह किसी के cradit card के जानकारी को चुरा कर free में किसी भी product को बुलाने की विधि को carding कहा जाता है। carding एक illigle विधि अगर आप carding करते हुए या carding के product खरीदते हुए पाये जाते है तो आपको सजा या जुर्माना दोनों हो सकती है क्योंकि carding करना या किसी के cradit card की जानकारी को चुराना cyber crime है। carding को online froud भी कहा जाता है


Carding ki puri process


Carding एक iligle mathode है इसलिए इसके बारे में में कुछ नही बताने वाला हु लेकिन हम इसकी कुछ process के बारे में जान लेते है।


Carding process को समझने के लिए carding की process को समझना जरूरी है।


  1. Hacker - हैकर किसी भी shopping website या shop के website को hack करके उस वेबसाइट से card की जानकारी चुरा लेता है और फिर वह cradit card ओर dabit card की जानकारी को carder को बेच देता हैं।



  1. Carder - carder वह व्यक्ति होता हैं जो hacker से क्रेडिट कार्ड की जानकारी को कुछ पैसो में खरीदता हैं। अब खरीदे हुए  क्रेडिट कार्ड की जानकारी द्वारा carder बहुत महंगे फ़ोन या कोई भी दूसरे product को free में खरीदता है।

  1. Costomer - कस्टमर वह व्यक्ति होता हैं जो लालच के कारण महंगे प्रोडक्ट को सस्ते में खरीदने के लिए carding के जाल में फस जाता है और बहुत बार वह ठग भी जाता है। क्योंकि real carder बहुत कम होते है और वह deal भी बहुत कम करते हैं बाकी सभी ठग होते है जो आपके पैसे लेकर आपको ब्लॉग कर देते है।

Carding illigle है और carding करना साइबर crime है। अतः आप कभी भी ऐसे लोगो से product न खरीदे ओर आप केवल शॉप ओर पहचान के लोगो से ही कोई भी product खरीदे।

मुझे उम्मीद है आपको हमारे इस article में बहुत कुछ जानने और सीखने को मिला है ओर हमारा ये article आपको पसंद आया है।



मुझे comment  अपनी प्रतिक्रिया जरूर दे कि आपको हमारी ये post कैसे लगी ओर इस article को अपने दोस्तों के साथ facebook, whatsapp, google plus में share जरूर करे।

ऐसे ही पसंदीदा विषयो के बारे में जानने के लिए हमारे website पर बने रहे धन्यवाद।

Post a Comment

0 Comments